You Are Here: Home » ENTERTAINMENT » फिल्म जगत में यौन उत्पीडऩ के आरोपों की लंबी-चौड़ी डायरी

फिल्म जगत में यौन उत्पीडऩ के आरोपों की लंबी-चौड़ी डायरी

एक अभिनेत्री के कथित अपहरण और दुष्कर्म के सिलसिले में मलयालम फिल्मों के अभिनेता दिलीप की गिरफ्तारी इस तरह का अकेला मामला नहीं है और पहले भी फिल्मी दुनिया के कई लोग इस तरह के मामलों में फंस चुके हैं। इससे पहले बॉलीवुड निर्देशक मधुर भंडारकर से लेकर अभिनेता शाइनी आहूजा तक कई फिल्मी हस्तियों के नाम इस तरह के मामलों में आ चुके हैं, जिनमें यौन उत्पीडऩ और मारपीट के आरोप लगे थे। कुछ मामलों में आरोप सच साबित हुए और कुछ में खारिज हो गये। इस चमक-धमक वाली दुनिया में कास्टिंग काउच के बारे में ज्यादा लोग नहीं बात करते लेकिन रणवीर सिंह और आयुष्मान खुराना जैसे नये जमाने के कलाकार अपने इस तरह के अनुभवों को उजागर कर चुके हैं जो फिल्मी दुनिया की काली सच्चाई को बयां करते हैं। साल 2005 में एक स्टिंग ऑपरेशन में शक्ति कपूर और अमन वर्मा को एक अंडरकवर रिपोर्टर से उसका फिल्म कॅरियर बनाने के बदले शारीरिक संबंध बनाने के लिए कहते देखा गया था।
फिल्म जगत में यौन उत्पीडऩ के आरोपों की यह डायरी लंबी चौड़ी है। फिल्म ‘चेन्नई एक्सप्रेस’ के निर्माता करीम मोरानी के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया था। 25 साल की एक महिला ने आरोप लगाया था कि मोरानी ने उससे शादी का वादा करके मुंबई में कई बार उसके साथ दुष्कर्म किया। ‘हजारों ख्वाहिशें ऐसी’ और ‘गैंगस्टर’ जैसी फिल्मों से कॅरियर में आगे बढ़ रहे अदाकार शाइनी आहूजा पर 2009 में उनकी घरेलू सेविका ने बलात्कार का आरोप लगाया था। बाद में उसने आरोप को वापस ले लिया लेकिन निचली अदालत की न्यायाधीश ने इसे कबूल नहीं किया और परिस्थितजन्य सबूतों के आधार पर आहूजा को दोषी करार दिया। एक फास्ट ट्रैक अदालत ने 2011 में आहूजा को सात साल के सश्रम कारावास की सजा सुनाई थी। आहूजा की अपील बंबई उच्च न्यायालय में लंबित है। ‘पीपली लाइव’ के सह-निर्देशक महमूद फारूकी को भी 2015 में कोलंबिया यूनिवर्सिटी की एक अमेरिकी शोधछात्रा के साथ दुष्कर्म का दोषी ठहराया गया और सात साल कैद की सजा सुनाई गयी। फारूकी का कहना था कि उन्हें गलत तरह से मामले में फंसाया गया। उनकी निर्देशक पत्नी अनुषा रिजवी यह मामला लड़ रही हैं। कुछ मामलों में आरोप टिके नहीं। निर्देशक मधुर भंडारकर के खिलाफ इस तरह के आरोपों को खारिज कर दिया गया। एक मॉडल ने 2004 में उन पर बलात्कार का आरोप लगाया था। लेकिन मामले ने तब यू-टर्न ले लिया जब मॉडल को भंडारकर की हत्या की साजिश रचने के मामले में तीन साल कैद की सजा सुनाई गयी। ‘आशिकी-2’ फिल्म के अपने मशहूर गाने ‘सुन रहा है ना तू’ से लोकप्रिय हुए गायक अंकित तिवारी को 2014 में एक महिला से बलात्कार के आरोपों में गिरफ्तार किया गया था लेकिन इस साल की शुरूआत में उन्हें इस मामले में बरी कर दिया गया।
फिल्म ‘वांटेड’ में सलमान खान के छोटे भाई का किरदार निभाने वाले अभिनेता इंद्र कुमार भी 2014 में इसी तरह के एक मामले में सुर्खियों में आये थे। एक मॉडल ने उन पर फिल्म में रोल देने के बहाने बलात्कार करने का आरोप लगाया था। ‘जॉली एलएलबी’ फिल्म के निर्देशक सुभाष कपूर पर एक पत्रकार से अभिनेत्री बनी महिला ने छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। कोई औपचारिक शिकायत नहीं होने पर मामला आगे नहीं बढ़ा। फिल्म इंडस्ट्री में जगह पाने के लिए संघर्ष कर रहे अभिनेता युवराज पाराशर ने ‘आई एम’ और ‘माई ब्रदर निखिल’ जैसी फिल्मों के राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार विजेता निर्देशक ओनिर पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था। ‘क्वीन’ के निर्देशक विकास बहल पर उनकी प्रोडक्शन कंपनी की एक सहकर्मी ने यौन उत्पीडऩ का आरोप लगाया था। खबरों के मुताबिक कंपनी ने उन्हें चेतावनी देकर दोबारा काम करने का मौका दिया। फैंटम फिल्म्स नामक इस कंपनी के कर्ताधर्ताओं में अनुराग कश्यप और विक्रमादित्य मोटवानी भी हैं। बात केवल हिंदी फिल्म जगत की नहीं है। तमिल अभिनेत्री और जानेमाने अभिनेता-नेता आर. सरदकुमार की बेटी वारालक्ष्मी सरद कुमार ने हाल ही में एक प्रमुख टीवी चैनल के प्रोग्रामिंग प्रमुख के साथ अपने कास्टिंग काउच के अनुभव को उजागर किया था।

यौन उत्पीडऩ के आरोप में अभिनेता पार्थ सम्थान भी हो चुके हैं गिरफ्तार

छोटे परदे पर धारावाहिक ‘कैसी ये यारियां’ से मशहूर हुए अभिनेता पार्थ सम्थान को बांगुर नगर पुलिस ने एक मॉडल के साथ र्दुव्यवहार के आरोप में गिरफ्तार किया है। अभिनेता पर पॉस्को एक्ट की धारा 7 और 8 के तहत ये कार्रवाई की गयी थी।
गौरतलब है कि गत दिनों 20 साल की एक मॉडल ने मुंबई के बांगुर नगर पुलिस स्टेशन में पार्थ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई थी जिसमें मॉडल ने पार्थ पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। बाद में मॉडल ने ये भी आरोप लगाया था कि उस पर शिकायत वापस लेने को दबाव बनाया जा रहा है लेकिन वो कम्प्लेन वापस नहीं लेंगी। मॉडल के मुताबिक एक बार एक पार्टी से लौटने के दौरान शराब के नशे में पार्थ ने उनके साथ बदसलूकी की। हालाँकि पार्थ द्वारा माफी मांगने मैंने उसे माफ भी कर दिया लेकिन, उसके बाद मैंने देखा कि मुझे अलग-अलग लोगों के फोन आने लगे जो काफी शर्मनाक और बेइज्जती भरे होते थे। मुझे मालूम हुआ कि कोई है जो मेरा नंबर सबको बांट रहा है। पार्थ उस समय ऐसे दिखा रहे थे जैसे कि वो मेरी मदद कर रहे हों। पर सच तो यह था कि ये सब बदला लेने के लिए वो ही कर रहे थे।
‘गैंगस्टर’ फिल्म से आगे बढ़ रहे शाइनी आहूजा पर 2009 में घरेलू सेविका ने बलात्कार का आरोप लगाया था। बाद में उसने आरोप को वापस ले लिया लेकिन निचली अदालत की न्यायाधीश ने इसे कबूल नहीं किया और परिस्थितजन्य सबूतों के आधार पर आहूजा को दोषी करार दिया…

रवीना के हीरो ने किया कास्टिंग काउच का खुलासा

आज भी बॉलीवुड इंडस्ट्री में कास्टिंग काउच हैं। इस बात का खुलासा शब फिल्म के एक्टर आशीष बिस्ट ने किया है। आशीष इस फिल्म से डेब्यू कर रहे हैं। फिल्म में वो अपनी से 13 वर्ष बड़ी रवीना टंडन के साथ रोमांस करते नजर आएंगे। आशीष ने बिना किसी का नाम लिए बताया, मेरा कॅरियर शुरू होने से पहले ही खत्म हो गया था। मैंने इस इंडस्ट्री में बहुत से कास्टिंग काउच को झेला। मुझे कुछ प्रोड्यूसर बुलाते थे और बेकार के सवाल पूछते थे।
आशीष ने कहा, प्रोड्यूसर कहते थे कि क्या तुम बेड पर कंफर्टेबल हो। मेल प्रोड्यूसर ही नहीं महिलाएं भी मुझसे इस तरह के सवाल पूछती हैं। वो मेरे घर पर कॉल करती थीं और मुझसे गंदी बातें करने की कोशिश करती थीं। इतना ही नहीं कुछ प्रोड्यूसर ने आशीष को इतने मैसेज किए थे कि उनकी जिंदगी नर्क बन गई थी। मैं टॉपिक बदलने की कोशिश करता तो फिर वो उसी बात पर आ जाते थे। 29 साल के आशीष को बहुत मुश्किल से बॉलीवुड में काम मिल पाया। आशीष फिल्म शब में एक स्ट्रगलर की भूमिका निभा रहे हैं। एक्टिंग के अलावा आशीष डिजाइनर भी हैं। एक डिजाइनर के तौर पर काम करते हुए भी आशीष को ये सब झेलना पड़ा। आशीष ने कहा, काम ना होने की वजह से मेरे पास पैसों कमी हो गई थी। आशीष ने बताया, फिल्म इंडस्ट्री की इमेज बहुत खराब हो गई है। फिल्म शब में भी इस इंडस्ट्री की असलियत को दिखाने की कोशिश की गई है। मैं लकी हूं कि मुझे ओनिर के साथ काम करने का मौका मिला। इसके अलावा आशीष ने एलजीबीटी कम्युनिटी के बारे में भी बात की। उन्होंने कहा, अगर कोई गे है तो इसका मतलब ये नहीं है कि वो आपके साथ सोना चाहता है। ये मेंटलिटी बिलकुल गलत है। ये इंसान की अपनी इच्छा होती है।

इन पर भी गहराया कास्टिंग काउच का साया

लीवुड हमेशा से कास्टिंग काउच के अस्तित्व को नकारता रहा है, लेकिन समय- समय पर कलाकारों ने इसके शिकार होने का दावा किया है। इस खबर में हम आपको बॉलीवुड के कुछ ऐसे सितारों से रूबरू करवा रहे हैं, जिन्होंने कभी ना कभी कास्टिंग काउच का शिकार होना पड़ा।

सुरवीन चावला
हेट स्टोरी 2 से सबको अपना दीवाना बनाने वाली सुरवीन ने भी इस बात को स्वीकार किया था कि बॉलीवुड में कास्टिंग काउच होता है। एक इंटरव्यू में सुरवीन ने कहा था कि जब वे इंडस्ट्री में एंट्री कर रहीं थीं तब उन्हें कई बार ऐसे आफर की पेशकश हुई थी लेकिन उन्होंने कभी काम्प्रोमाइस नहीं किया।

अंजना सुखानी
डिपार्टमेंट, दे ताली और संडे जैसी फिल्मों में काम कर चुकीं अंजना ने भी कास्टिंग पर खुलकर बोला है। अंजना के मुताबिक इंडस्ट्री में यह सब होता है और जो इससे इन्कार करता है वह झूठ बोल रहा है। नई लड़कियों को शुरुआती दिनों में यह सब झेलना
पड़ता है।

स्वरा भास्कर
स्वरा भास्कर को भी कास्टिंग काउच से रूबरू होना पड़ा था। स्वरा ने बताते हुए कहा कि एक बार जब वे ऑडिशन देने गई तो उन्होंने पूछा कि आप क्या-क्या कर सकती है। इसके जवाब में उन्होंने अपनी सारी खूबियां गिना दी, लेकिन उसके बाद भी जब उसने पूछा कुछ और तो स्वरा को समझ आया। उस वक्त स्वरा ने उन्हें कहा कि मैं सेक्स नहीं कर सकती और मीटिंग वहीं खत्म हो गई। हालांकि स्वरा ने उस शख्स का नाम नहीं बताया।

ममता कुलकर्णी
फेमस डायरेक्टर राजकुमार संतोषी भी कास्टिंग काउच के आरोप से बच नहीं सके। अभिनेत्री ममता कुलकर्णी संतोषी पर यह आरोप लगाया था कि फिल्म चाइना गेट की शूटिंग के दौरान राजकुमार संतोषी ने उन्हें सेक्स का ऑफर दिया था, जब ममता ने उनकी बात नहीं मानी तो फिल्म में उसका रोल कम कर दिया गया। उस समय ममता किसी अन्य मामले को लेकर भी चर्चा में थी।

पायल रोहतगी
साल 2011 में टीवी रिएलिटी शो बिग बॉस कंटेस्टेंट रही पायल रोहतगी ने निर्देशक दिबाकर बनर्जी पर छेड़छाड़ और शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाया। पायल के मुताबिक जब बनर्जी ने उसे फिल्म संघाई में रोल देने के लिए अप्रोच किया था तब उसके साथ छेड़छाड़ की थी। बाद में डायरेक्टर ने दोस्त का बचाव करते हुए पायल का मानसिक रूप से अस्थिर बताया था।

चित्रांगदा सिंह
हाल ही में बॉलीवुड एक्ट्रेस चित्रांगदा सिंह ने फिल्म बाबूमोशाय बंदूकबाज के सेट पर सेक्स सीन करने को लेकर बेहद ही चौंकाने वाला खुलासा किया था और कहा था कि फिल्म के डायरेक्टर ने उन्हें बेहद ही भद्दे तरीके से सेक्स सीन करने को मजबूर किया था। चित्रांगदा के मुताबिक, डायरेक्टर कुशान ने चित्रांगदा से सेक्स सीन की डिमांड की थी, जिसके बाद उन्होंने फिल्म छोड़ दी।

प्रीति जैन
एक्ट्रेस बनने की चाहत रखने वाली प्रीति जैन ने 2004 में डायरेक्टर मधुर भंडारकर पर रेप का आरोप लगाया था। प्रीति ने कहा था कि मधुर ने उसे अपनी फिल्म में लॉन्च करने का वादा करके 1999 से 2004 तक लगातार उसके साथ सेक्स किया था। इस घटना में नाटकीय मोड़ तो तब आया जब अंडरवल्र्ड के एक अपराधी को मधुर भंडारकर के कत्ल के लिए 70000 रुपए देने के आरोप में हिरासत में ले लिया गया। 2006 में इस रेप केस को रद्द कर दिया गया मगर 2009 में से दोबारा खोला गया। इस पूरे घटनाक्रम के दौरान मधुर ने एक सिरे से प्रीति के इन आरोपों को नकार दिया। मधुर ने कहा कि प्रीति ने धोखाधड़ी का आरोप लगाया है, रेप का नहीं।

परिधि शर्मा
‘जोधा अकबर’ फेम टीवी एक्ट्रेस परिधि शर्मा भी शो के डायरेक्टर पर यौन शोषण का आरोप लगा चुकी हैं। परिधि के अनुसार शो के डायरेक्टर संतराम वर्मा ने शूटिंग के दौरान उनका यौन शोषण किया है। खबर यहां तक थी कि परिधि ये शो छोड़ रही हैं, लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

ममता पटेल
पान सिंह तोमर में इरफान की को-स्टार ममता पटेल ने उन पर इल्जाम लगाया कि फिल्म की आउटडोर शूटिंग के दौरान इरफान ने उनका शोषण किया और चुप रहने की धमकी भी दी। ममता ने बताया कि खान ने उन्हें फिल्मों में काम दिलाने का लालच भी दिया।

तब्बू
तब्बू और जैकी श्रॉफ ने आज तक किसी भी फिल्म में साथ काम नहीं किया है। इसके पीछे बड़ी वजह यौन शोषण से जुड़ा विवाद है। खबरों के मुताबिक, तब्बू की बड़ी बहन और एक्ट्रेस फराह ने जैकी श्रॉफ पर आरोप लगाते हुए एक मैगजीन को दिए इंटरव्यू में कहा था कि उन्होंने तब्बू से छेड़छाड़ की थी। फराह के अनुसार, यह घटना उस दौरान हुई जब वे जैकी के साथ फिल्म शूटिंग पर गई थीं और तब्बू भी उनके साथ थी। इस दौरान तब्बू की उम्र 14 या 15 साल रही होगी। हालांकि, जैकी पर लगाया गया यह आरोप साबित नहीं हो सका।

सुचित्रा कृष्णमूर्ति
2009 में एक्ट्रेस सुचित्रा कृष्णमूर्ति ने अपने ब्लॉग पर ये खुलासा किया था कि अपनी फिल्म में कास्ट करने का लालच देने वाले एक प्रोड्यूसर द्वारा अश्लील हरकत किए जाने से वो बाल-बाल बची थीं।

शक्ति कपूर
2005 में एक न्यूज चैनल ने शक्ति कपूर का स्टिंग ऑपरेशन कर शक्ति कपूर के कास्टिंग काउच का खुलासा किया। स्टिंग ऑपरेशन में शक्ति कपूर एक महिला टीवी रिपोर्टर से कह रहे थे कि अगर फिल्मों में काम करने की इच्छुक है तो उसे काास्टिंग काउच के लिए तैयार रहना होगा। यहीं नहीं स्टिंग ऑपरेशन में शक्ति कपूर को महिला पर शारीरिक संबध बनाने का दबाव डालते हुए भी दिखाया गया।

रीना गोलन
इजरायली मॉडल रीना गोलन ने आरोप लगाया था कि जब वह हीरोइन बनने का सपना लेकर भारत आई तो सुभाष घई ने उसे कास्टिंग काउच का ऑफर दिया। रीना ने अपनी आत्मकथा में खुलासा किया किया था कि भारत में काम दिलवाने की एवज में सुभाष घई जैसी कई नामी हस्तियों ने उन्हें कास्टिंग काउच का ऑफर दिया था।

अनीता आडवाणी
दिवंगत सुपर स्टार राजेश खन्ना के साथ लिव-इन पार्टनर रहीं अनीता आडवाणी ने शो बिग बॉस-7 में सनसनीखेज खुलासा किया था। उन्होंने बताया था कि जब वे मात्र 13 की थीं, तब पहली मुलाकात के दौरान ही राजेश खन्ना ने उन्हें बांहों में भरकर किस किया था। अनीता ने इस दौरान यह भी कहा था कि इस मुलाकात के बाद काका ने उनका यौन शोषण किया था।

एक्स ‘अंगूरी भाभी’ ने प्रोड्यूसर पर लगाया यौन उत्पीडऩ का आरोप
टीवी सीरियल ‘भाभीजी घर पर हैं’ की एक्स ‘अंगूरी भाभी’ यानी एक्ट्रेस शिल्पा शिंदे एक बार फिर चर्चा में है। टीवी शो छोडऩे के एक लंबे समय बाद उन्होंने इसके प्रोड्यूसर संजय कोहली पर यौन उत्पीडऩ का आरोप दर्ज करवाया है। खबरों के मुताबिक, शिल्पा शिंदे ने मुंबई के वसई इलाके के वाल्वी पुलिस स्टेशन में संजय कोहली के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई है। इसमें शिल्पा ने आरोप लगाया है कि प्रोड्यूसर उनसे अश्लील बातें करता था। शिल्पा ने अपनी शिकायत में लिखा था, ‘संजय कोहली कहते थे कि तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो, तुम बहुत सेक्सी हो, तुम बहुत हॉट हो। मैं तुम्हारा बहुत बड़ा फैन हूं।’ शिल्पा की एफआईआर की कॉपी में यह भी कहा गया है कि संजय कोहली ने उन्हें धमकी दी थी। कि अगर वह उनके नजदीक नहीं आईं तो वह उन्हें शो से निकाल देंगे। शिल्पा ने अपनी एफआईआर में मेकअप मैन पिंकू का भी नाम लिया है। उनके मुताबिक, ‘एक बार जब कोहली मुझे परेशान कर रहा था तो मेकअप मैन पिंकू पटवाना ने देखा था। दूसरे ही दिन प्रोड्यूसर ने उसे शो से निकाल दिया। जब मैंने उनके ऑफर को ठुकरा दिया तो उन्होंने मुझे भी इस शो से निकाल दिया।’ गौरतलब है कि शिल्पा ने जब पिछले साल अचानक शो छोड़ दिया तो इस शो के प्रोडक्शन हाउस ने उन्हें लीगल नोटिस भेजा था। इसके तहत प्रोड्यूसर ने शिल्पा से 12.5 करोड़ रुपये भुगतान की बात रखी।

बॉलीवुड ही नहीं टीवी की दुनिया में भी होता है कास्टिंग काउच

जानिए क्या कहते हैं सितारे
कास्टिंग काउच को लेकर बॉलीवुड में कई स्टोरीज सुनी हैं। लेकिन इससे छोटा पर्दा भी अछूता नहीं है। टीवी इंडस्ट्री में भी कई एक्टर-एक्ट्रेसेस भी इस एक्सपीरियंस से गुजर चुके हैं। छोटे पर्दे की दुनिया में कास्टिंग काउच को सीकिंग फेवर्स के रूप में जाना जाता है। ज्यादातर एक्टर-एक्ट्रेसेस का कहना है कि यह यहां मौजूद है। लेकिन किस्मत से उन्हें इससे नहीं गुजरना पड़ा। टीवी इंडस्ट्री और बॉलीवुड में कास्टिंग करने वाले एक जाने-माने कोऑर्डिनेटर का मानना है कि टीवी की दुनिया में कास्टिंग काउच का चलन बहुत ज्यादा है, जहां एक्टर-एक्ट्रेसेस अगर कॉम्प्रोमाइज करने को तैयार नहीं होते तो उन्हें पूरे एपिसोड से ही हटा दिया जाता है। वे कहते हैं, फिल्मों की तुलना में टीवी ज्यादा पावरफुल हो गया है। यहां ज्यादा से ज्यादा न्यूकमर्स अपनी पहचान बना रहा हैं। बॉलीवुड में अपने सपने पूरे करने के लिए दूर-दूर से युवा अपनी किस्मत आजमाने यहां आते हैं। इनमें से कई, यहां तक कि लडक़े भी कास्टिंग काउच का शिकार हो जाते हैं। कई लडक़े-लड़कियों से वादा किया जाता है कि उन्हें लीड रोल दिया जाएगा। लेकिन उन्हें साइड रोल से संतुष्ट होना पड़ता है। टीवी एक्टर-एक्ट्रेसेस इसे लेकर क्या कहते हैं? डालते हैं एक नजर….

राखी सावंत
एक्स्पोइलटेशन हर जगह है। फिर चाहे बॉलीवुड हो या फिर टेलीविजन। लेकिन मैं सिर्फ इतना कहना चाहती हूं कि हर सबकी अपनी च्वॉइस है। मैंने ऐसी कई लड़कियों को देखा है, जो बड़े रोल पाने के लिए कुछ भी कर जाती हैं और अगर उन्हें इससे तकलीफ नहीं तो किसी क्या आपत्ति। इंडस्ट्री में कोई किसी का रेप नहीं करता। लेने और देने का आइडिया हर जगह मौजूद है और मुझे इस आइडिया में कुछ गलत नजर नहीं आता।

‘बालिका वधू’ फेम सांची
जब मैं नई-नई इंडस्ट्री में आई थी तो मेरा सामना कुछ फर्जी लोगों से हुआ। मैंने हमेशा असली और नकली लोगों के बीच अंतर बनाकर रखा। मैंने कई बड़े प्रोडेक्शन हाउसेस के साथ काम किया है और मेरा मानना है कि सक्सेस का कोई शॉर्टकट नहीं होता।

विवेक मिश्रा
टीवी इंडस्ट्री में कास्टिंग काउच मौजूद है। जो ऐसा कहते हैं कि उन्होंने कभी इसका सामना नहीं किया, वे झूठ बोल रहे हैं। सभी को इस दौर से गुजरना पड़ा है। लेकिन कोई स्वीकारना नहीं चाहता। अगर टीवी पर आप फेवर नहीं कर रहे हो तो निश्चित है कि आपको अच्छा रोल नहीं मिल सकता। यह छोटे से बड़े लेवल तक जाता है। कुछ कोऑर्डिनेटर्स आपको बहू का रोल ऑफर करते हैं। लेकिन ऑडिशन के दौरान आपसे बिकिनी पहनने की मांग करते हैं। यहां तक कि कुछ कोऑर्डिनेटर्स आपसे डायरेक्टली कहते हैं कि अगर आप उन्हें संतुष्ट करते हैं तो वे आपको बड़ा रोल दिला देंगे। मुझे तीन लोगों को संतुष्ट करने को कहा गया था। लेकिन मैं काफी बोल्ड था, इसलिए सिचुएशन से बाहर निकल आया।

शिविन नारंग
(‘एक वीर की अरदास: वीरा’ फेम रणविजय)
जब मैं न्यूकमर्स था, तब कई लोगों ने मेरे साथ अपने बुरे एक्सपीरियंस शेयर किए थे। जब मैं दिल्ली से मुंबई आया तो मुझे इंडस्ट्री के बारे में कोई आइडिया नहीं था। लेकिन ईमानदारी से कहूं तो मुझे ऐसी किसी सिचुएशन से नहीं गुजरना पड़ा। भगवान की कृपा से मुझे अच्छे लोगों के साथ काम करने का मौका मिला। अगर आप नासमझ नहीं हैं तो कोई भी आपके साथ कुछ नहीं कर सकता।

कणिका माहेश्वरी
(‘दीया और बातीहम’ फेम मीनाक्षी)
मेरा मानना है कि यह मौजूद है। लेकिन खुशकिस्मती से मुझे कभी अप्रोच नहीं किया गया। अगर किसी ने मेरे साथ स्मार्ट बनने की कोशिश की तो मैं उससे कहूंगी, ‘ इससे पहले कि मैं पुलिस को बुलाऊं, दफा हो जाओ यहां से।’

All Rights Reserved to Weekand Times . Website Developed by Prabhat Media Creations.