You Are Here: Home » UTTAR PRADESH » खेलों को बढ़ावा देने की मुहिम

खेलों को बढ़ावा देने की मुहिम

देहरादून। राष्ट्रमंडल खेलों के शुरू होने से पहले 50 देशों से होने के बाद भारत पहुंची क्वींस बैटन रिले जब देहरादून में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और खेल मंत्री अरविन्द पाण्डेय, खेल सचिव हरबंस सिंह चुघ से होते हुए जब गुजरे जमाने के उस्ताद और मौजूदा दौर के हुनरमंद चैम्पियन खिलाडिय़ों के हाथों पहुंची तो उनका उत्साह और खुशी देखने लायक था। खिलाडिय़ों का खुश होना स्वाभाविक था, लेकिन कमिश्नर दिलीप जावलकर, पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी और अपर पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार और जिलाधिकारी मुरुगेशन भी बैटन को थाम कर प्रफुल्लित दिखाई दे रहे थे। यह मौका विरले ही मिलता है इसलिए तकरीबन हर कोई इसको एक बार छूना चाह रहा था। मुख्यमंत्री ने इस अवसर को अद्भुत और खेलों को प्रोत्साहन देने वाला करार ही नहीं दिया बल्कि खेलों के विकास के लिए सरकार की तरफ से हर मुमकिन कदम उठाने का भरोसा भी दिया।
बैटन नैनीताल, रुद्रपुर, ऋषिकेश और हरिद्वार होते हुए देहरादून के पुलिस लाइन पहुंची थी। जब बैटन लेकर आया हेलीकाप्टर पुलिस लाइन के मैदान पर उतरा तो दर्शकों और खिलाडिय़ों ने तालियां बजा कर स्वागत किया। खेल सचिव चुघ ने इसको भारतीय ओलिंपिक संघ के अधिकारियों के हाथों ग्रहण किया। मुख्यमंत्री रावत ने इस मौके को अविस्मरणीय करार दिया। खेल मंत्री पाण्डेय ने कहा कि खेलों के सहारे देश का नाम दुनिया में रोशन होता है। सरकार खेलों और खिलाडिय़ों को प्रोत्साहन देने के लिए तैयार है। बैटन के साथ खिलाडिय़ों ने रेसकोर्स की सडक़ों पर दौड़ भी लगाई। खुद खेल मंत्री खुली जीप पर सवार हो कर खिलाडिय़ों का हौसला बड़ा रहे थे। सभी खिलाडिय़ों ने बारी-बारी से बैटन संभाला। दौड़ पुलिस लाइन जा कर खत्म हुई। समारोह में ओलिम्पियन हॉकी खिलाड़ी हरदयाल सिंह जो 92 साल के हैं और देश के लिए एशियाई खेलों में मुक्केबाजी का पहला स्वर्ण पदक जीतने वाले पदम् बहादुर मल्ल की मौजूदगी और राष्ट्रीय रिकॉर्डधारी एथलीट प्रीतम बिन्द का खुद उपस्थित होना भी समारोह की चमक बढ़ा गया। हालांकि, कमियां भी आयोजन में रहीं। सही समय पर खिलाडिय़ों को सूचना नहीं मिलने से कई खिलाड़ी नहीं आ पाए। आयोजन स्थल परेड मैदान या पवेलियन ग्राउंड के बजाए पुलिस लाइन होने से आम लोग पिछली बार की बैटन रिले की तरह नहीं जुटे।

All Rights Reserved to Weekand Times . Website Developed by Prabhat Media Creations.