You Are Here: Home » UTTAR PRADESH » योगी आदित्यनाथ ने सेट किया एजेंडा, कर्नाटक में टीपू सुल्तान को मुद्ïदा बनाएगी भाजपा

योगी आदित्यनाथ ने सेट किया एजेंडा, कर्नाटक में टीपू सुल्तान को मुद्ïदा बनाएगी भाजपा

चुनाव प्रचार में योगी का भरपूर इस्तेमाल करेगी भाजपा, हिंदुत्व के मुद्दों को गरमाने की योजना
अगले वर्ष कर्नाटक में होना है विधानसभा चुनाव, कांग्रेस और राहुल गांधी को कटघरे में खड़ा करेगी भाजपा

वीकएंड टाइम्स न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी ने अगले साल कर्नाटक में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। भाजपा गुजरात की तरह प्रखर हिंदुत्ववादी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कर्नाटक में भी भरपूर इस्तेमाल करेगी। अपने पहले दौरे में ही योगी आदित्यनाथ ने अपना एजेंडा सेट कर दिया है। योगी कांग्रेस की घेराबंदी करने के लिए हिंदुत्व से जुड़े मुद्दों को उठाएंगे, जिनमें खासतौर पर कर्नाटक सरकार द्वारा पिछले दिनों टीपू सुल्तान की जयंती मनाना शामिल रहेगा। योगी टीपू सुल्तान के मुद्दे पर कांग्रेस और उसके अध्यक्ष राहुल गांधी को कटघरे में खड़ा करने की कोशिश करेंगे।
हिंदुत्व के जिन मुद्दों पर प्रधानमंत्री रहते हुए नरेंद्र मोदी खुलकर नहीं बोलते हैं उन मुद्दों पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुलकर बोल रहे हैं। गुजरात में खासतौर पर योगी आदित्यनाथ ने अपने भाषणों को इन्हीं मुद्दों पर केंद्रित किया था। गुजरात में राहुल गांधी ने जिस तरह से सॉफ्ट हिंदुत्व की राह पकड़ी थी, उसकी हवा निकालने का काम योगी आदित्यनाथ ने किया। राहुल ने जब गुजरात के विकास का मुद्दा उठाया तो योगी आदित्यनाथ ने अमेठी का उदाहरण पेश कर ‘राहुल का विकास मॉडल’ पेश किया। नगर निकाय चुनाव में अमेठी में कांग्रेस की हार को भी गुजरात में योगी ने भुनाया। इस तरह योगी ने कोई ऐसा मुद्दा नहीं छोड़ा जिस पर वह कांग्रेस को घेर सकते थे। 26 नवंबर से 12 दिसंबर के बीच गुजरात में योगी ने कई दौरे किए और वह गुजरात के लगभग ढाई दर्जन जिलों में गए। गुजरात में योगी की सभाओं में भारी भीड़ उमड़ी और पार्टी ने उन्हें स्टार प्रचारक के तौर पर जनता के बीच पेश किया। तमाम विधानसभा क्षेत्रों से उम्मीदवारों ने योगी की डिमांड भी की।
गुजरात और हिमाचल के बाद अगले साल कर्नाटक में विधानसभा के चुनाव होने हैं। कर्नाटक में कांग्रेस की सरकार है। भाजपा हाईकमान ने कर्नाटक के लिए योगी का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। बता दें कि 21 दिसंबर को कर्नाटक के हुबली में भाजपा की परिवर्तन रैली थी, जिसमें योगी आदित्यनाथ को भेजा गया था। यहां भी योगी ने कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला। उन्होंने कहा कि यह हनुमान की पूजा नहीं करते बल्कि टीपू सुल्तान की पूजा करते हैं। योगी ने कांग्रेस और राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। कर्नाटक सरकार ने पिछले दिनों टीपू सुल्तान की जयंती मनाई थी, जिस पर बोलते हुए योगी ने कहा ये हनुमान की पूजा नहीं करते, टीपू सुल्तान की पूजा करते हैं। यही इनकी मानसिकता का अंतर है। योगी ने कर्नाटक सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि प्रदेश में जिस तरह हिंदुओं और भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या की जा रही है, इससे साबित होता है कि प्रदेश में अराजकता का माहौल है। अपने चिरपरिचित अंदाज में योगी ने कर्नाटक को हनुमान की भूमि बताया और कहा कि कर्नाटक सरकार हनुमान जयंती की बजाय टीपू सुल्तान की जंयती मना रही है। उन्होंने कहा कि एक के बाद एक प्रदेश में जनता कांग्रेस से छुटकारा पा रही है। जनता ने गुजरात और हिमाचल में कांग्रेस को खारिज कर दिया है और आने वाले समय में कर्नाटक भी कांग्रेस को खारिज कर देगा। इसके बाद यहां टीपू सुल्तान की पूजा करने वाला कोई नहीं बचेगा।

All Rights Reserved to Weekand Times . Website Developed by Prabhat Media Creations.