You Are Here: Home » खबरची » अखिलेश की राजनीतिक मोर्चेबंदी से बैकफुट पर भाजपा

अखिलेश की राजनीतिक मोर्चेबंदी से बैकफुट पर भाजपा

सूबे में हुए उपचुनाव और उपचुनाव के नतीजों ने भाजपा के रणनीतिकारों के माथे पर पसीना ला दिया है। भाजपा लाख कोशिश करने के बााद भी अपनी सीटों को बचाने में कामयाब नहीं हो पा रही है। विपक्ष की लगातार तेज होती गोलबंदी ने भाजपा को बैकफुट पर आने पर मजबूर कर दिया है। मोदी लहर पर सवार भाजपा को सूबे में एक के बाद एक जबरदस्त झटके मिल रहे हैं। भाजपा को लगातार लग रहे इन झटकों के पीछे अखिलेश यादव की गठबंधन को लेकर चल ही सियासी कवायद को अनदेखा नहीं किया जा सकता है। एक वक्त में जब पूरा विपक्ष भाजपा का रास्ता रोकने में नाकाम साबित हो रहा था तब अखिलेश यादव ने ही यूपी में गठबंधन के जरिए भाजपा का विजय रथ रोकने का फॉर्मूला सामने रखा। इतना ही भाजपा के खिलाफ व्यूह रचना में सपा अध्यक्ष ने सबसे पहले सपा के चिरप्रतिद्वंदी बसपा के साथ ही तालमेल बिठाया और उसके बाद जो नतीजे सामने आए वो हैरान करने वाले रहे। फिलवक्त भाजपा अखिलेश की राजनीतिक मोर्चेबंदी के चलते बैकफुट पर दिख रही है।

All Rights Reserved to Weekand Times . Website Developed by Prabhat Media Creations.