You Are Here: Home » खबरची » चोरों के निशाने पर वीआईपी

चोरों के निशाने पर वीआईपी

ताले शरीफों के लिए होते हैं चोरों के लिए नहीं….यह कहावत इन दिनों यूपी में सत्य साबित हो रही है। इसके साथ ही एक बात और सामने आ रही है कि रुतबे और ताकत से आम आदमी भले ही अर्दब में आ जाता हो लेकिन यूपी के बुलंद हौसले वाले चोरों पर इस भौकाल का कोई असर नहीं होता है। अपने काम के प्रति निष्ठïा रखने वाले और हाथ साफ करने में सिद्धहस्त ये चोर विधायक का घर खंगालने से लेकर डिप्टी सीएम के परिजनों तक के घर पर अपना हाथ साफ कर चुके हैं। सबसे खास बात यह है कि वीआईपी लोगों के कुत्ते और भैंसों को ढूंढने का दम रखने वाली पुलिस इन हाइटेक चोरों का कोई सुराग नहीं लगा पाती है। अब तो ये लगने लगा है कि चोरों ने भी मीडिया की सुर्खियां बटोरने के लिए वीआईपी लोगों को टारगेट बनाना शुरू कर दिया है। ये वीआईपी चोरियां अक्सर मीडिया की सुर्खियों में बनी रहती हैं। लेकिन यह सवाल अपनी जगह कायम है कि जो पुलिस इन वीआईपी लोगों के घरों को सुरक्षा नहीं प्रदान कर पा रही है उसी के भरोसे सरकार अपराध मुक्त यूपी का सपना देख रही है।

All Rights Reserved to Weekand Times . Website Developed by Prabhat Media Creations.