You Are Here: Home » विविध » विपक्ष की एकता भाजपा के लिए खतरे की घंटी

विपक्ष की एकता भाजपा के लिए खतरे की घंटी

अर्चना दयाल

लोकसभा की चार और विभिन्न विधानसभाओं की 10 सीटों पर हुए उपचुनावों के नतीजे विपक्षी पार्टियों की एकजुटता का दम दिखाते हैं, लेकिन साथ ही ये मोदी सरकार के कामकाज को लेकर पैदा हो रहे असंतोष का संकेत भी देते हैं। इन दिनों देश में उपचुनावों को भी काफी गंभीरता से लिया जाने लगा है। इससे सरकार को अपने कार्यकाल के बीच में अपना कामकाज परखने का अवसर मिलता है, साथ ही बदलते सियासी समीकरणों की ताकत भी तोलने में आ जाती है। नतीजे बताते हैं कि उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र और झारखंड जैसे राज्यों में, जहां बीजेपी की सरकार है, पार्टी के लिए चुनाव जीतना खासा मुश्किल हो रहा है।

All Rights Reserved to Weekand Times . Website Developed by Prabhat Media Creations.