You Are Here: Home » उत्तराखंड » मिलकर काम करेंगे उत्तराखंड-हरियाणा

मिलकर काम करेंगे उत्तराखंड-हरियाणा

वीक एंड टाइम्स ब्यूरो

देहरादून। उत्तराखण्ड व हरियाणा के मध्य जल्द ही किसाऊ और रेणुका बहुद्देशीय परियोजनाओं के सम्बन्ध में एमओयू किया जाएगा। दोनों राज्यों के मध्य किसाऊ बहुद्देशीय परियोजना से सम्बन्धित बिजली व पानी की भागीदारी के सम्बन्ध में निर्णय हो गया है। परियोजना से उत्तराखण्ड को बिजली व हरियाणा को 47 प्रतिशत पानी आपूर्ति होगी। उत्तराखण्ड व हरियाणा संयुक्त रूप से केन्द्र सरकार से आग्रह करेंगे कि किसाऊ के सम्बन्ध में जल्द से जल्द टेन्डर की अनुमति प्रदान की जाए।
किसाऊ, लखवाड़ व रेणुका बहुद्देशीय परियोजनाओं को ससमय पूरा करने हेतु राज्यों के सामूहिक प्रयास पर बल दिया जा रहा है। लखवाड़ बहुद्देशीय परियोजना को आगामी 4 सालों में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। लखवाड़ परियोजना से हरियाणा को 160 क्यूसेक पानी की प्रतिवर्ष आपूर्ति होगी। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि तीनों परियोजनाओं को समय पूरा करने के लिए साझा प्रयास किए जा रहे हैं। राज्यों के अन्तिम सयुंक्त प्रयास के अंतर्गत केन्द्र सरकार से अनुरोध किया जाएगा कि परियोजनाओं के टेन्डर प्रक्रिया आरम्भ करने के लिए जल्द से जल्द अनुमति दी जाए।
किसाऊ, लखवाड़ व रेणुका बहुद्देशीय परियोजनाओं से दोनों राज्यों के बिजली व पानी की जरूरतें पूरी होंगीं। जल्द ही उत्तराखण्ड व हरियाणा के बीच परिवहन के सम्बन्ध में भी एमओयू किया जाएगा। त्रिवेन्द्र ने कहा कि जो कार्य गत 40 सालों से लम्बित पड़े थे, केन्द्र व राज्य सरकारो के मध्य बेहतर समन्वय से आज जल्द से जल्द पूरे हो रहे हैं।
केन्द्र व राज्यों में निर्णायक सरकारें कार्य कर रही हैं।
मुख्यमंत्री रावत और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के बीच सहस्त्रधारा हैलीपैड गेस्ट हाउस में किसाऊ, लखवाड़ व रेणुका जल विद्युत परियोजनाओं के सम्बन्ध में चर्चा की गई । इस अवसर पर प्रमुख सचिव श्री आनंदबद्र्धन व उत्तराखण्ड जल विद्युत निगम लिमिटेड के प्रबन्ध निदेशक एसएन वर्मा व अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

All Rights Reserved to Weekand Times . Website Developed by Prabhat Media Creations.