You Are Here: Home » सम्पादकीय

महिलाओं में आत्मसम्मान की भावना जगाने वाली सरोजनी नायडू

राष्ट्रीय कांग्रेस की पहली महिला अध्यक्ष बनने वाली सरोजनी नायडू ने स्वतंत्रता आंदोलन में महिलाओं की भागीदारी की अगुवाई की। सरोजनी नायडू ने सविनय अवज्ञा आंदोलन में बढ़चढक़र हिस्सा लिया और उन्होंने गांधी तथा अन्य नेताओं के साथ जेल की सजा काटी। उन्होंने गांधीजी के दांडी मार्च में भी हिस्सा लिया। गांधीजी, अब्बास तैयब एवं कस्तूरबा गांधी की गिरफ्तारी के बाद उन्होंने धडसाना सत्याग्रह की अगुवाई की... भारतीय स्वतंत्र ...

Read more

भाषा अभिव्यक्ति का साधन ही नहीं  सांस्कृतिक सेतु भी है

हमारा विरोध तो विदेशी भाषा से है जिसने हिंदी को आगे नहीं बढऩे दिया। आज आवश्यकता इस बात की कि हम विश्व मातृ भाषा दिवस जरूर मनाएं लेकिन हिंदी को उसका हक अवश्य दिलायें।  अन्तरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस 21 फरवरी को मनाया जाता है। 17 नवंबर, 1999 को यूनेस्को ने इसे स्वीकृति दी थी। सीधे शब्दों में कहें तो जन्म लेने के बाद मानव जो प्रथम भाषा सीखता है उसे उसकी मातृभाषा कहते हैं। मातृभाषा, किसी भी व्यक्तिकी सामाजिक ...

Read more

प्रो.गर्ग बने एनआईटी निदेशक

देहरादून। उत्तराखंड तकनीकी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. पीके गर्ग का चयन प्रतिष्ठित राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान के निदेशक के पद पर हो गया। प्रो.गर्ग मूल रूप से आईआईटी रूडक़ी से हैं। उन्होंने दो साल पहले ही मौजूदा पद पर चयन के बाद सेवा देना शुरू किया है। प्रो. गर्ग कब नई जिम्मेदारी संभालेंगे, यह अभी उन्होंने तय नहीं किया है, लेकिन जब से वह कुलपति बने हैं, सरकार के रवैये से वह खुश नहीं रहे हैं। उनको सरकार ...

Read more

ऐश ट्रे

इलहाम के धुएं से लेकर सिगरेट की राख तक उम्र की सूरज ढले माथे की सोच बले एक फेफड़ा गले एक वियतनाम जले... और रोशनी अंधेरे का बदन ज्यों ज्वर में तपे और ज्वर की अचेतना में- हर मज़हब बड़बड़ाए हर फ़लसफ़ा लंगड़ाये हर नज़्म तुतलाये और कहना-सा चाहे कि हर सल्तनत सिक्के की होती है, बारूद की होती है और हर जन्मपत्री- आदम के जन्म की एक झूठी गवाही देती है। पैर में लोहा डले कान में पत्थर ढले सोचों का हिसाब रुके सिक्के का ह ...

Read more

फिर शुरू हुई राजनीति

यूपीए की सरकार में जिस जीएसटी बिल को लटकाने में भाजपा ने एड़ीचोटी का जोर लगा दिया था अब उसी बिल को पास कराने के लिए वह पूरी ताकत झोंक रही है। राज्यसभा में बने नए समीकरण भी फिलहाल पार्टी को कुछ राहत देते दिख रहे हैं। जीएसटी बिल एक बार फिर चर्चा में है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बीते दिनों संकेत दिया कि तमिलनाडु को छोडक़र बाकी सारे राज्य इसके पक्ष में हैं। तमिलनाडु ने विधेयक को लेकर कुछ चिंताएं जाहिर की हैं, ...

Read more

All Rights Reserved to Weekand Times . Website Developed by Prabhat Media Creations.